Join our Social Groups on Facebook and Telegram

ह्युमोल - एक श्रेष्ठ भुसुधारक

पिछले २१ साल से पाटिल बायोटेक प्रा. ली. "ह्युमोल" नामसे पोटेशियम ह्युमेट दे रही है. ह्युमोल, लिक्विड फॉर्म में पोटेशियम साल्ट ऑफ़ ह्युमीक एसिड है. इससे मिटटी को पोटेशियम एवं ह्युमीक एसिड की अच्छी मात्रा प्राप्त होती है.

ह्युमिक एसिड व् ह्यूमस में संरचनात्मक और कार्यात्मक समानता है. यह एक बड़ा एवं जटिल रेणु है जिसमे अनेक अयन-एक्सचेंज कार्यसमूह बने है. इसको मिटटी में मिलानेपर मिट्टी की बनावट, जल धारण क्षमता, आयन एक्सचेंज क्षमता, मिट्टीके कणोंमे सहचारिता और सूक्ष्मजीवोंकी वैविध्यतामें बढ़ावा होता है.

मृदा के इन गुनोंमे सुधार होनेसे पौधे बड़ी संख्यामें सूक्ष्म-सफेद जड़े बना पाते है जो पोषक तत्वोंको उठानेमें अधिक असरदार होते है. इससे नत्र, फोस्फरस, पोटेश, कैल्शिअम, मैग्नेशियम, सल्फर, लोह, झिंक, कोंपर, मेग्नीज, मोलाब्द व् बोरोन के शोषण में बढ़ोतरी होती है.

बड़ी मात्रामे पोषक तत्व उठाये जाने से, मिटटी के निचलीपरत मे बह जानेवाले खाद में कमी आती है.

पोटेशियम ह्युमेट के अलावा ह्युमोल में एडजुवंट्स है जो इसके एकसमान व् विस्तृत फैलाव में मदत करते है.

डोस: ड्रेंचिंग के लिए १०० मिली प्रति पम्प, हर २५ से ३५ दिनोंमे, बेसल डोसेस के साथ में, इस्तेमाल करे.

ह्युमोल के अपार सफलता से प्रेरित होकर कंपनीने दो साल पूर्व "ह्युमोल जेली" तथा "ह्युमोल गोल्ड" यह दो ब्रांड नये सिरेसे बाजार में लाए.

ह्युमोल जेली: यह  पेस्ट फॉर्म में पोटेशियम साल्ट ऑफ़ ह्युमीक एसिड है. 

डोस: ड्रेंचिंग के लिए १०० ग्राम प्रति पम्प, हर २५ से ३५ दिनोंमे, बेसल डोसेस के साथ में, इस्तेमाल करे. ह्युमोल जेली का प्रयोग बिजप्रक्रिया में भी किया जाता है.

ह्युमोल गोल्ड: यह तांत्रिक दर्जेका पानी में घुलने वाला पोटेशियम साल्ट ऑफ़ ह्युमीक एसिड है. इससे मिटटी को पोटेशियम एवं ह्युमीक एसिड की अच्छी मात्रा प्राप्त होती है.

डोस: ड्रिप व् ड्रेचिंग के लिए एक किलो प्रति एकड़, हर २५ से ३५ दिनोंमे, बेसल डोसेस के साथ में, इस्तेमाल करे. इसको यूरिया जैसे दानेदार खादोमे मिलकर भी इस्तेमाल किया जाता है.

Leave a comment

Name .
.
Message .

Please note, comments must be approved before they are published